About Sampoorna Samaj Party

 

दिनांक 5 मार्च सन 2016 दिन शनिवार सुबह 11 बजे स्थान बाबा गंगादास आश्रम गैरवाह, पर एक बैठक हुई और समाज में फैली बेरोज़गारी, भ्रष्टाचार, गुंडागर्दी और ऐसे तमाम मुद्दो पर गहन चर्चा हुई, और एक राजनैतिक दल का गठन किया गया । वहाँ पर उपस्थित सम्पूर्ण सदस्यों की सहमति से श्री अमरेन्द्र ( मंगल ) पाण्डेय जी को राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाया गया एवं पार्टी का नाम “सम्पूर्ण समाज पार्टी” रखा गया ।

 सम्पूर्ण समाज पार्टी के प्रमुख उद्द्येश्य

योग्यता के आधार पर सभी बेरोजगारों को रोजगार मिले जिसके लिये रोजगार गारंटी योजनायें ( बेरोज़गारी से तंगआकर हमारे कितने भाई गलत रास्ता चुन लेते है और वो अपराध जगत में शामिल हो जाते है ) किसानों के कर्ज माफ किये जाये, क्योंकि हम नही चाहते की कर्ज के बोझ तले दबकर किसान आत्महत्या जैसे कदम उठायें किसानों को सस्ते दाम पर खाद, बीज, व उनके द्वारा ऊपजाये गये फसलों को उचित मूल्य मिले और गरीब किसानों को कुछ हद तक बिजली मुफ्त दी जाये और सूखा जैसे हालात में किसानों को उचित मुवावजा भ्रष्टाचार, गुंडागर्दी, चोरी डकैती से निजात पाने के लिये प्रशासन को सख्त कार्यवाही करने की पूरी छूट व आदेश महिला सुरक्षा योजनायें ( जिसमे महिला सुरक्षा के कड़े इंतजाम किये जाये ताकि बलात्कार, छेड़खानी जैसे संगीन जुर्म से निजात मिल सके ) आपातकालीन सेवायें मुफ्त ( जिसमे आपको किसी भी आपातकालीन स्थितियों में भरपूर सहयोग मिले ) सीधी बात मुख्यमंत्री से नामक एक प्रोग्राम ( जिसमे आप सीधे मुख्यमंत्री से बात कर सकते है और अपने किसी भी समस्या व शिकायत का समाधान प्राप्त कर सकते है ) एक ऐसे काल सेंटर का निर्माण किया जायेगा जिसमे 24/7 आप अपने किसी भी समस्या का समाधान प्राप्त कर सकते है और आपके किसी भी शिकायत पर तुरंत कार्यवाही की जायेगी स्वास्थ्य सम्बन्धी सारी सेवायें मुफ्त हो ताकि पैसे के कारण कोई भी किसी बीमारी का शिकार होकर मृत्यु तक ना पहुँचे सर्वेक्षण के बाद जातिगत आरक्षण को ख़त्म करके आर्थिक आधार पर आरक्षण लागू किया जाये ( चाहे वह किसी भी जाति या धर्म का हो और दिब्याँग ( अपंग ) अनाथ और शहीदों के बच्चो को शामिल किया जाये ) स्नातकोत्तर तक मुफ्त व अनिवार्य शिक्षा व प्राथमिक वीद्द्यालय से ही तकनीकी शिक्षा लागू किया जाये हर गाँव तक बिजली, सड़क, व परिवहन सेवायें मुहैया करायी जाये ताकि ग्रामीण क्षेत्रों में रह रहे लोगों को शुविधा प्राप्त हो सके बुजर्गों, महिलाओं व बच्चों को सरकारी परिवहन सेवा में रियायती टिकेट उपलब्ध कराया जाये , सुरक्षा क्षेत्र ( सेना व पुलिस प्रशासन ) में काम कर रहे लोगों के शहीद होने पर उनकी विधवाओं या आश्रितों को कम से कम एक करोड़ रुपये दिया जाये ताकि उनके पालनकर्ता के ना होने पर उन्हे किसी भी आर्थिक समस्या का सामना ना करना पड़े व समय समय पर सरकार उनके आश्रितों का हाल चाल ले, पर्यावरण की सुरक्षा, प्रदूषण पर रोक व हर साल सुनियोजित तरीके से वृक्षारोपण का प्राविधान बनाये जाये, न्यायपालिका में मुकदमों का निस्तारण शीघ्र हो ऐसी नीतियां बनायी जाये, ताकि न्याय की उम्मीद में बैठे लोगों को जल्द से जल्द न्याय मिल सके, राष्ट्रीय धरोहरो का सही तरीके से देख रेख किया जाये और सुनियोजित तरीके से उसका सुंदरीकरण किया जाये ताकि उसको देखने के बाद पर्यटकों को आनँद की अनुभूति प्राप्त हो

प्रेरक
सम्पूर्ण समाज पार्टी की भारत के संविधान में सच्ची निष्ठा और श्रध्दा है । महात्मा गाँधी , डा. सर्वपल्ली राधाकृष्णन एवं स्वामी विवेकानन्द के आदर्शों से प्रेरणा लेकर सम्पूर्ण समाज पार्टी लोकतंत्र धर्म निरपेक्षता और समाजवाद में आस्था रखेगी । सम्पूर्ण समाज पार्टी का विश्वास ऐसी राज व्यवस्था में है, जिसमे आर्थिक एवं राजनीतिक सत्ता का विकेन्द्रीकरण निश्चित रूप से हो । पार्टी शांतिमय तथा लोकतांत्रिक तरीकों से विरोध प्रकट करने के अधिकार को मान्यता प्रदान करती है, इसमे सत्याग्रह तथा शांतिपूर्ण विरोध शामिल है । धर्म पर आधारित राज्य की अवधारणा का सम्पूर्ण समाज पार्टी विरोध करती है और धर्म पर आधारित राज्य में आस्था रखने वाले किसी भी संगठन का कोई भी सदस्य सम्पूर्ण समाज पार्टी का सदस्य नही हो सकता । सम्पूर्ण समाज पार्टी विधि द्वारा स्थापित भारत के संविधान के प्रति सच्ची श्रद्धा एवं निष्ठा बनाये रखेगी तथा उनमे सन्निहित समाजवाद , धर्म निरपेक्षता एवं प्रजातंत्र के सिद्धांतों के प्रति प्रतिबद्ध रहेगी । सम्पूर्ण समाज पार्टी भारत की सम्प्रभुता, एकता और अखंडता को अक्षुण्ण बनाये रखेगी। 18 वर्ष या उससे अधिक उम्र का कोई भी व्यक्ति जो सम्पूर्ण समाज पार्टी के धारा 2 को स्वीकार करता हो 21 रुपया त्रैवार्सिक शुल्क देकर सम्पूर्ण समाज पार्टी का प्रारम्भिक सदस्य बन सकता है । शर्त यह है की वह अन्य किसी राजनैतिक एवं साम्प्रदायिक दल जिसकी पृथक सदस्यता, पृथक संविधान एवं पृथक कार्यक्रम हो, का सदस्य ना हो

हमारा संकल्प एवं लक्ष्य
1- राष्ट्रीयता को बेचे नहीं, इसे हमें अपनाना है |
2- जातिवाद , धर्मवाद और साम्प्रदायिकता के कलंक से मातृभूमि को बचाना है |
3- सदभावना व सामाजिक, न्याययुक्त विकास |
4- अलगाववाद, जातिवाद, धर्मवाद व भ्रष्‍टाचार का कोई स्थान ना रहे |
5- महिलाओं को समानता का अधिकार दिलाना ।

( सिर्फ राजनीति ही सम्पूर्ण समाज पार्टी का लक्ष्य नही )

राजनीति हिंदुस्तान का मुख्य स्तंभ है, अगर स्तंभ गिरता है तो घर की छत भी गिर जाती है और उसमें दब कर मरते है सिर्फ घर वाले | आज के समय में राजनीति को कोई बचा सकता है तो वह है हम सभी भारतीयों की ईमानदारी और बिना किसी दिखावे के साथ होने वाली सच्ची देश भक्ति | अगर हर हिन्दुस्तानी अपने कर्तव्यों को पूरी ईमानदारी से निभाये तो ये मुठठी भर नेता ( जो देश का फायदा अपने स्वार्थ के लिये उठाना चाहतें है |) चाहकर भी राजनीति के चेहरे को विकृत नहीं कर पायेंगे और तब भारतीय राजनीति का मृत प्राय दिल फिर से धड़कने लगेगा | हमारे देश को ईमानदार, क्षमतावान एवं आदर्शवान नेतृत्व तभी प्राप्त होगा, जब परिस्थितियों का मूल्यांकन राजनीतिक दल अपने स्तर से करे | जन सेवा की भावना को सही दिशा देने की जरूरत है | यह इस देश के राजनीतिक दलों का ही कार्य है, कि वे इस देश को एकता के सूत्र में बांधे रखें | यह कार्य तभी होगा जब वे स्वयं जनता के समक्ष एक दिखें| देश के विकास के लिये, गरीब से गरीब व्यक्तियों के जीवन में खुशियाँ भरने के लिये, सब को शिक्षा मिलें, सब को चिकित्सा सुविधा मिलें | देश के जवान और देश के किसानो का उत्साह का माहौल बने | आपसी सदभाव का माहौल बनें | महिलाओं को सम्मान दिया जाए |
देश को बदलने के लिये सबसे पहले खुद को बदलने की जरूरत है | आज नई राजनीति की जरूरत है जो कहने में नहीं करने में विश्वास करती हो अब योग्य व्यक्ति को लाने की और साथ देने की जरूरत है| हम सभी का नियत साफ हो तो एक आदमी कुछ भी कर सकता है, देश को बदलने के जज्बा होना चाहिये, सम्पूर्ण समाज पार्टी का साथ दें तभी देश बदल सकता है | नये नये लोगों को घर से निकल कर देश को बदलने की जरूरत है, क्योंकि अगर हम अभी नहीं जगे तो देश लूट जायेगा और बट जायेगा | हम लोगो को हिन्दू-मुस्लिम से आगे बढ़कर भेद भाव को त्याग कर बेबसों को, योग्य व्यक्तियों को और महिलाओं को आगे लाना है| जाति पाति और भेद भाव से ऊपर उठकर देश में कुछ करने की जरूरत है |
आगे आयें, और देश के निर्माण की तरफ नये विकल्प को चुने| और हम सभी लोग एक होकर नये तरीके से नये रूप से अपने देश के लिये कार्य करें | ” सम्पूर्ण समाज पार्टी ” जो सम्पूर्ण समाज और सम्पूर्ण वर्ग को समान रूप से जाति पाति और भेद भाव से ऊपर उठकर धर्म तथा साम्प्रदायिकता के भेदभाव को त्याग कर सिर्फ मनुष्यता को अपना लक्ष्य बना कर देश में एक जुट होकर काम कर रही है,उसे अपना साथ और सहयोग दें क्योंकि सम्पूर्ण समाज पार्टी को आपकी जरूरत है जिससे उसके नये भारत का संकल्प पूरा हो सके |

Advertisements
Advertisements